DA Image

ऑल यूज़र रिवीव्स ऑफ़ जब हैरी मेट सेजल

  • शाहरुख़ और अनुष्का की केमिस्ट्री के अलावा इस फ़िल्म में कुछ नहीं है !

    Surabhi Shukla (1260 डीएम पॉइंट्स)

    रेटेड  
    3.0
    देसीमार्टीनी | अपडेट - August 04, 2017 15:42 PM IST
    2.9डीएम (8024 रेटिंग्स )

    निर्णय - निर्णय : लव स्टोरी देखना पसंद है तो ये फ़िल्म आपको निराशा नहीं करेगी !

    जब हैरी मेट सेजल ट्रेलर देखें रिलीज़ डेट : August 04, 2017



    फ़िल्म 'जब हैरी मेट सेजल' दो अपोजिट व्यक्तियों की कहानी है, जिसमें हरिंदर सिंह नेहरा यानी हैरी के किरदार में शाहरुख़ खान और सेज़ल ज़ावेरी के किरदार में अनुष्का शर्मा ने काम किया है। हैरी जो एक पंजाबी मुंडा है और रिश्तों को बेहतर समझता है वहीं सेज़ल बक बक करने वाली लड़की हैं। ये पूरी स्टोरी आपको एक जगह से दूसरी जगह घुमाएगी। हैरी के साथ घूमते-घूमते सेज़ल को एक नये तरीके का एक्सपीरियंस और आज़ादी का एहसास होता है। दोनों एक-दूसरे के साथ को खूब एन्जॉय करते हैं। लेकिन वे ख़ुद जान नहीं पाते हैं कि वो क्या चाहते हैं या किसे ढूंढ रहे हैं। इन्हीं सबके बीच कहानी में उन्हें प्यार, झूठ, ज़िन्दगी और कल्पना और अपने अन्दर की आवाज़ को सुनने का मौका मिलता है।

    जबसे हमें ये खबर मिली थी कि इम्तियाज़ अली और शाहरुख़ खान एक साथ काम करने वाले हैं तभी से इस फ़िल्म के चर्चे शुरू हो गये थे । इम्तियाज़ के साथ शाहरुख़ की ये पहली मूवी है वहीं अनुष्का के साथ उनकी तीसरी फ़िल्म हैं। हमेशा यूनिक लव स्टोरी से दर्शकों का दिल जीतने वाले इम्तियाज़ का जादू इस फ़िल्म में भी चलता नज़र आ रहा है। फ़िल्म में शाहरुख़ एक टूर गाइड की भूमिका में हैं और सेज़ल यूरोप घुमने आती हैं। अपनी इसी यात्रा के दौरान सेजल की सगाई होती है और यात्रा से लौटते समय उन्हें एहसास होता है कि उनकी इंगेजमेंट रिंग कही खो गयी है। इसके बाद वो ये तय करती है कि वो अंगूठी लिए बिना अपने देश वापस नहीं जायेंगी । यहीं से शुरू होती है हैरी और सेजल की कहानी! कहानी में बहुत नया पन नहीं है और ये इम्तियाज की पिछली कुछ फिल्मों की कहानी जैसे मिलना-बिछड़ना जैसे प्लॉट के आसपास ही घूमती है।

    शाहरुख़ और अनुष्का की केमिस्ट्री ज़बरदस्त है। दोनों ने अपने किरदारों को बेहतर तरीके से निभाया है। शाहरुख़ और अनुष्का के अलावा किसी और किरदार पर ज़्यादा फोकस नहीं किया गया है। हालाँकि फिल्म में एवलिन शर्मा और कृषांश वर्मा भी हैं।

    इम्तियाज़ अली के निर्देशन में बनी फ़िल्म आपको प्यार और उसमें जन्मे अपनेपन को महसूस कराएगी। इम्तियाज़ हमेशा से एक अलग तरीके की स्टोरी बनाने के लिए जाने जाते हैं ।

    फ़िल्म का म्यूजिक कमाल का है। जहाँ 'बीच बीच में' एक नया पार्टी सॉन्ग है, वहीं 'राधा' और 'बटरफ्लाई' आपको साथ में गाने के लिए मजबूर कर देंगे। प्रीतम द्वारा कंपोज़ किये गये ये गाने बहुत जल्द ही चार्ट बस्टर बन गये । इसके अलावा भी फ़िल्म में कई छोटे-छोटे गाने है, जो फ़िल्म को बेहतर जोड़ते हैं।

    फिल्म की सिनेमेटोग्राफी शानदार है। ये फिल्म में आपको खूबसूरत यूरोप की कई जगहों के दर्शन कराएगी ।

    इम्तियाज़ की और कई फिल्मों की तरह इस फ़िल्म में ऐसा कुछ नया नहीं है। फ़िल्म वही एक लव स्टोरी और इसके मुख्य किरदार के आसपास ही बनी है। शाहरुख़ और अनुष्का की केमिस्ट्री ही आपको बाँधे रख सकती है। इसके अलावा अनुष्का का गुजराती डायलेक्ट और दोनों के बीच के कुछ संवाद आपको हँसने का मौका भी देंगे। फ़िल्म का फर्स्ट हाफ काफ़ी मज़ेदार है, वहीं सेकंड हाफ की कहानी का अनुमान आप ख़ुद ही कर लेंगे। फिर भी फ़िल्म की कहानी देखकर आपको निराशा नहीं होगी।

और ऑडियंस रिव्यूज़

  • Surabhi Shukla

    Surabhi Shukla

    5 रिव्यू
    रेटेड 3.0अगस्त 04, 2017

    शाहरुख़ और अनुष्का की केमिस्ट्री के अलावा इस फ़िल्म में कुछ नहीं है !

    फ़िल्म 'जब हैरी मेट सेजल' दो अपोजिट व्यक्तियों की कहानी है, जिसमें हरिंदर सिंह नेहरा यानी हैरी के किरदार में शाहरुख़ खान और सेज़ल ज़ावेरी के किरदार में अन...और पढ़ें