DA Image

ऑल यूज़र रिवीव्स ऑफ़ नाम शबाना

  • नाम शबाना रिव्यू

    Pallavi Jaiswal (190068 डीएम पॉइंट्स)

    रेटेड  
    3.0
    देसीमार्टीनी | अपडेट - March 30, 2017 17:42 PM IST
    3.3डीएम (5165 रेटिंग्स )

    निर्णय - निर्णय ; नाम शबाना अपनी दिलचस्प डिलीवरी के साथ आपको मंत्रमुग्ध कर देगी !

    नाम शबानाट्रेलर देखें रिलीज़ डेट : March 28, 2017



    2015 में आयी फिल्म बेबी ने भारतीय स्पाई फ़िल्मों के लिए एक बेंचमार्क तय किया था और उसी का एक हिस्सा होने की वजह से नाम शबाना से भी दर्शकों को काफी उम्मीद थी। अपनी कुछ कमियों साथ शबाना आपको अपनी सीट पर जमे रहने के लिए मजबूर करती है।

    फिल्म 'पिंक' में तापसी पन्नू ने अपनी परफॉरमेंस से दर्शकों का दिल जीत था और ये फिल्म उस बात को और आगे लेकर जाती है। महिला नायक पर आधारित इस फिल्म में तापसी से अपने एक्शन का जलवा दिखाया है और आप उनकी दाद देने से नहीं रोक पाएंगे। नाम शबाना में आप देखेंगे कि कैसे मुम्बई की एक सीधी-साधी लड़की एकदम तेज़-तरार बनती है और गुंडों से लड़ती है।

    फिल्म की कहानी शबाना खान नामक लड़की पर आधारित है जो अपने स्कूल की कूडो चैंपियन है और दूसरों से कोई मतलब नहीं रखती। शबाना एक गंभीर लड़की है जो अपनी ज़िन्दगी में किसी को हिस्सा नहीं देती है और अपने-आप से मतलब रखती है। जय उसका पिक एंड ड्रॉप ड्राइवर दोस्त है, जो शबाना से बेइन्तहाँ प्यार करता है। जय अपने जन्मदिन पर शबाना से अपने प्यार का इज़हार करता है और तब शबाना उसे बताती है कि वो दुनिया से इतनी बेज़ार क्यों है ! चीज़ें बदलती हैं और ईव-टीज़िंग की घटना में जय की मौत हो जाती है। अपने प्यार की मौत के लिए न्याय की तलाश करने निकली शबाना से एक रहस्यमय व्यक्ति बात करता है। ये व्यक्ति शबाना को उसके प्रेमी के क़ातिल का पता देने को तैयार है लेकिन शबाना को पहले उसकी मदद करनी होगी। इसके बाद शबाना नेशनल सीक्रेट एजेंसी में प्रवेश करती है और कहानी आगे बढ़ती है।

    फिल्म के फर्स्ट हाफ में शबाना का परिचय दिखाया गया है और सेकंड हाफ में फील्ड एजेंट के तौर पर शबाना की यात्रा दिखाई गयी है। नाम शबाना की प्लॉटलाइन काफी प्रगतिशील है। इसमें आप शबाना को मैट पर कूडो करने से लेकर गुंडों का मुँह तोड़ते देखेंगे। शबाना के किरदार का विकास ही इस कहानी का सबसे दिलचस्प पार्ट है। महिला पर आधारित फिल्म होने के साथ ही ये फिल्म देखने में अच्छी है।

    फिल्म की शुरुआत के 30 मिनट कुछ ख़ास नहीं है। फिल्म का म्यूजिक भी ख़ास नहीं है। सभी कलाकारों की एक्टिंग बेहतरीन है और तापसी एक बार फिर आपका दिल जीतने में सफल होती हैं। ये फिल्म बेबी के हिस्से के रूप में पूरा न्याय करती है। अगर आप अच्छी फिल्म देखना चाहते हैं तो आपको ये फिल्म ज़रूर देखनी चाहिए।

    • Storyline
    • Direction
    • Acting
    • Cinematography
    • Music

और ऑडियंस रिव्यूज़

  • Pallavi Jaiswal

    Pallavi Jaiswal

    45 रिव्यू , 5 फ़ॉलोअर्स
    रेटेड 3.0मार्च 30, 2017

    नाम शबाना रिव्यू

    2015 में आयी फिल्म बेबी ने भारतीय स्पाई फ़िल्मों के लिए एक बेंचमार्क तय किया था और उसी का एक हिस्सा होने की वजह से नाम शबाना से भी दर्शकों को काफी उम्मीद थ...और पढ़ें