अनुराग कश्यप ने सेंसर बोर्ड को समझाया था चुतिया शब्द का मतलब, प्रूफ देकर बोले- ये गाली नहीं बल्कि...

    अनुराग कश्यप ने सेंसर बोर्ड को समझाया था चुतिया शब्द का मतलब, प्रूफ देकर बोले- ये गाली नहीं बल्कि...

    फिल्म डायरेक्टर अनुराग कश्यप ने एक वीडियो शेयर किया है, जिसमें इस बात का दावा किया गया है कि चूतिया एक गाली नहीं है। 

    अनुराग कश्यप ने सेंसर बोर्ड को समझाया था चुतिया शब्द का मतलब, प्रूफ देकर बोले- ये गाली नहीं बल्कि...

    डायरेक्टर अनुराग कश्यप इस वक्त अपनी नई फिल्म की वजह से नहीं बल्कि किसी और वजह से सुर्खियों में बने हुए हैं। उन्होंने चूतिया शब्द से जुड़ा एक वीडियो अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर शेयर किया है, जिसमें इस बात का जिक्र किया गया है कि चूतिया गली नहीं है। फिल्म निर्माता अनुराग कश्यप ने इस बात का खुलासा किया है कि उन्होंने "सेंसर बोर्ड" को चूतिया शब्द समझाने के लिए एक हिंदी डिक्शनरी का इस्तेमाल किया था। ये सब उन्होंने तब किया जब उनकी 1998 में आई फिल्म सत्य केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (सीबीएफसी) के सामने स्क्रीनिंग के लिए रखी गई थी।

    दरअसल अनुराग कश्यप ने जो वीडियो शेयर किया है उसमें ये बताया गया है कि कैसे चूतिया' शब्द एक अपमानजनक शब्द या फिर गाली नहीं है, हालांकि इसे आमतौर पर एक शब्द के रूप में माना जाता है। अनुराग ने शुक्रवार शाम को इस वीडियो को इंस्टाग्राम पर शेयर करते हुए लिखा, “बहुत बड़ा सच (यह एक प्रमुख सच्चाई है) .. सत्य की सेंसर स्क्रीनिंग के दौरान मैंने सेंसर बोर्ड को इसे समझाने के लिए एक हिंदी डिक्शनरी रखी थी कि चूतिया एक गाली नहीं है।" 

    अब फिल्म निर्माता के इस वीडियो पर फैंस जबरदस्त तरीके से कमेंट करते हुए दिखाई दे रहे हैं। कुछ यूजर्स ने तो हंसी वाली इमोजी पोस्ट पर शेयर की है। तो उनमें से एक यूजर ने यह भी लिखा कि उत्तर प्रदेश के लोगों के लिए इस शब्द का मतलब बेवकूफ है।

    वैसे देखा जाए तो चूतिया शब्द को आमतौर पर एक अपशब्द के रूप में माना जाता है। हालांकि, न्यूज़ लॉन्ड्री द्वारा शेयर किए गए इस वीडियो में ये दिखाया गया है कि डिक्शनरी बताती है कि इस शब्द का सीधा-सा अर्थ है ब्लॉकहेड या मूर्ख। वीडियो वाराणसी में छपी हिंदी सबसागर के बारे में बात करती है और यह दावा करती है कि डिक्शनरी इस शब्द को अश्लील या फिर अपमानजनक शब्द होने का संकेत नहीं देती है। 

    Tags
    About Author
    सभी को देश और दुनिया की खबरों के साथ-साथ एंटरटेनमेंट जगत से रुबरु कराने का काम करती हूं। राजनीति विज्ञान का ज्ञान लेकर एमए पास किया है। मास कम्युनिकेशन में पीजी डिप्लोमा के बाद फिलहाल पत्रकारिता कर रही हूं।