जब राजू श्रीवास्तव की बेटी ने लुटेरों से बचाई मां की जान, मिला था राष्ट्रीय वीरता पुरस्कार

    जब राजू श्रीवास्तव की बेटी ने लुटेरों से बचाई मां की जान, मिला था राष्ट्रीय वीरता पुरस्कार

    राजू श्रीवास्तव की बेटी अंतरा ने एक बार अपनी मां की जान बचाई थी और अपने घर को भी लुटेरों से बचाया था। इसके लिए उन्हें राष्ट्रीय वीरता पुरस्कार मिला था। 

    जब राजू श्रीवास्तव की बेटी ने लुटेरों से बचाई मां की जान, मिला था राष्ट्रीय वीरता पुरस्कार

    कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव अब इस दुनिया में नहीं हैं। उन्हें 10 अगस्त को दिल का दौरा पड़ने के चलते दिल्ली के एम्स में भर्ती कराया गया था लेकिन गुरुवार को उन्होंने दम तोड़ दिया। राजू अपने पीछे अपनी बेटी शिखा और बेटा-बेटी छोड़ गए हैं। राजू श्रीवास्तव ने नच बलिए में अपने दोनों बच्चों से सबको रुबरु करवाया था लेकिन कम ही लोग जानते होंगे कि उनकी बेटी कितनी बड़ी बहादुर हैं। बेटी अंतरा ने एक बार अपने घर और मां दोनों को लुटेरों से बचाया था। इस वीरता के लिए उन्हें साल 2006 में राष्ट्रीय वीरता पुरस्कार भी मिला था।

    अंतरा ने साल 2019 में अपनी इस बहादुरी के अवॉर्ड वाली कुछ तस्वीरें सोशल मीडिया पर शेयर की थीं। इसके कैप्शन में उन्होंने लिखा था, ''तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से राष्ट्रीय वीरता पुरस्कार प्राप्त करने का प्रतिष्ठित क्षण। तत्कालीन उपराष्ट्रपति भैरों सिंह शेखावत और तत्कालीन रक्षा मंत्री ए.के. एंटनी। तस्वीरों में अपनी लूट की घटना उनके साथ साझा कर रही हूं।''

    क्या हुआ था?

    मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक कुछ चोर राजू श्रीवास्तव के घर में घुस गए थे और उनकी पत्नी शिखा पर बंदूक तान दी थी। अंतरा इस बीच किसी तरह बेडरूम तक पहुंच गई थीं। उन्होंने पापा से पहले पुलिस को फोन किया। अंतरा ने फिर बेडरूम से ही गार्ड को आवाज दी और उसे पुलिस को बुलाने को कहा। इस बीच अंतरा ने लुटेरों का जमकर सामना किया। मौके पर पुलिस और गार्ड पहुंच गए थे। इस तरह अंतरा ने अपने घर को भी लुटने से बचा लिया और अपनी मां की जान भी बचा ली थी। 

    अंतरा आज फिल्म इंडस्ट्री में एक्टिव हैं। वो साल 2013 से ही फिल्मों से जुड़ गई थीं। उन्होंने बतौर असिस्टेंट प्रोड्यूसर और डायरेक्टर काम किया है। अंतरा ने ‘फुल्लू’, ‘पलटन’, ‘द जॉब’, ‘पटाखा’ और ‘स्पीड डायल’ जैसी फिल्मों में काम किया है।

    Tags