विक्की कौशल चाहते हैं ‘सरदार उधम’ देखकर ब्रिटिशर्स को हो अपने किए का एहसास; बोले- ‘बॉलीवुड’ नहीं ‘भारतीय’ फिल्म कहिए!

    Trending

    विक्की कौशल चाहते हैं ‘सरदार उधम’ देखकर ब्रिटिशर्स को हो अपने किए का एहसास; बोले- ‘बॉलीवुड’ नहीं ‘भारतीय’ फिल्म कहिए!

    विक्की कौशल चाहते हैं ‘सरदार उधम’ देखकर ब्रिटिशर्स को हो अपने किए का एहसास

    विक्की कौशल चाहते हैं ‘सरदार उधम’ देखकर ब्रिटिशर्स को हो अपने किए का एहसास; बोले- ‘बॉलीवुड’ नहीं ‘भारतीय’ फिल्म कहिए!

    विक्की कौशल की शूजित सरकार डायरेक्टोरियल फिल्म ‘सरदार उधम’ को कैसे रिव्यूज़ मिले हैं ये आप गूगल पर देख सकते हैं। लेकिन असल में अमेज़न प्राइम पर ये फिल्म देखने वालों के दिल पर क्या बीत रही है, इसके लिए आपको सोशल मीडिया देखना पड़ेगा। विक्की के बॉलीवुड वाले साथियों से लेकर आम जनता तक जो भी इस फिल्म को देख रहा है उसे अपनी भावनाएं संभालने के लिए बहुत मेहनत करनी पड़ रही है। कई लोग फिल्म देखकर रोते हुए लग उठ रहे हैं, तो कईयों को ये फिल्म जलियांवाला बाग़ की वीभत्सता का सबसे भयानक चित्रण लग रही है।

    फिल्म की ऑथेंटिसिटी देखकर लोग हैरान रह जा रहे हैं और इसे हॉलीवुड लेवल का प्रोजेक्ट बता रहे हैं। हालांकि, क्रांतिकारी उधम सिंह के रोल में नज़र आ रहे विक्की कौशल चाहते हैं कि फिल्म से बस ‘बॉलीवुड’ फिल्म का तमगा हटा दिया जाए और इसे एक भर्ती फिल्म कहा जाए। ज़ूम से बात करते हुए

    उन्होंने कहा, “इसमें हिंदी, इंग्लिश और पंजाबी के साथ पूरी इमानदारी बरती गई है और इसका रेलिवेंस स्वतंत्रता संघर्ष, जलियांवाला बाग़ से भी है; और हम दुनिया भर की इंडियन कम्युनिटी तक भी पहुंचना चाहते हैं। हम यह भी चाहते हैं कि जो ब्रिटिश लोग ये फिल्म देखें उन्हें एहसास हो कि हम पास्ट में किन चीज़ों से गुज़रे हैं और उन्होंने पहले ऐसा क्या किया है जिसके लिए उनकी जवाबदारी बनती है। ये सब फैक्टर्स देखते हुए, मुझे लगता है कि फिल्म को ओटीटी रिलीज़ के लिए लाना बेस्ट फैसला था”।



    Updated: October 17, 2021 11:25 PM IST
    About Author
    कंटेंट का बुखार हो या बॉक्स-ऑफिस की रफ़्तार... हमारे यहां फिल्मों की धार तसल्लीबख्श चेक की जाती है। शुक्रवार को मिलें, सिने-मा कसम.. देख लूंगा!